सुर्खियों
लोहित जिले की साक्षरता दर

लोहित जिला: अरुणाचल प्रदेश का सबसे साक्षर जिला

लोहित : अरुणाचल प्रदेश का सबसे साक्षर जिला अपनी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और प्राकृतिक सुंदरता के लिए मशहूर अरुणाचल प्रदेश ने शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति की है। इसके जिलों में लोहित सबसे साक्षर जिले के रूप में उभरा है, जिसकी साक्षरता दर प्रभावशाली है जो शिक्षा और विकास के प्रति क्षेत्र की प्रतिबद्धता…

और पढ़ें
अरुणाचल प्रदेश सींग वाला मेंढक

अरुणाचल प्रदेश में सींग वाले मेंढक की नई प्रजाति की खोज हुई: मेगोफ्रीस अरुणाचलेंसिस

अरुणाचल प्रदेश में सींग वाले मेंढक की नई प्रजाति पाई गई परिचय एक उल्लेखनीय खोज में, वैज्ञानिकों ने भारत के अरुणाचल प्रदेश में सींग वाले मेंढक की एक नई प्रजाति की पहचान की है। यह महत्वपूर्ण खोज न केवल क्षेत्र की जैव विविधता को बढ़ाती है बल्कि अरुणाचल प्रदेश की समृद्ध पारिस्थितिक विविधता को भी…

और पढ़ें
सींग वाले मेंढक की खोज जैव विविधता भारत

अरुणाचल प्रदेश में सींग वाले मेंढक की नई प्रजाति की खोज: जैव विविधता समाचार

अरुणाचल प्रदेश में सींग वाले मेंढक की नई प्रजाति की खोज की गई जैव विविधता से समृद्ध अरुणाचल प्रदेश राज्य में सींग वाले मेंढक की एक नई प्रजाति की खोज की गई है, जो भारत की वन्यजीव विविधता में एक महत्वपूर्ण वृद्धि है। यह खोज [लेख में निर्दिष्ट होने पर संगठन का उल्लेख करें] के…

और पढ़ें
डोंग गांव अरुणाचल प्रदेश

डोंग गांव: भारत में सूर्योदय देखने वाला पहला स्थान

डोंग: सूर्योदय देखने वाला भारत का पहला गांव डोंग गांव का परिचय अरुणाचल प्रदेश के अंजॉ जिले में स्थित डोंग गांव को सूर्योदय देखने वाला भारत का पहला स्थान होने का गौरव प्राप्त है। यह खूबसूरत गांव भारत के पूर्वी भाग के शांत पहाड़ों के बीच बसा है, जो चीन और म्यांमार की सीमा से…

और पढ़ें
अरुणाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव

तेशाम पोंगटे अरुणाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष चुने गए: महत्व और मुख्य बातें

तेसम पोंगटे अरुणाचल प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए तेसम पोंगटे को सर्वसम्मति से 8वीं अरुणाचल प्रदेश विधानसभा का अध्यक्ष चुना गया है। प्रोटेम स्पीकर निनॉन्ग ने यह घोषणा की। इरिंग पोंगटे , भारतीय जनता पार्टी के सदस्य जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक, चांगलांग उत्तर विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और इससे पहले वे…

और पढ़ें
अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू

पेमा खांडू ने तीसरी बार अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली

पेमा खांडू ने तीसरी बार अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली पेमा अरुणाचल प्रदेश के मौजूदा मुख्यमंत्री खांडू ने हाल ही में संपन्न राज्य विधानसभा चुनावों में निर्णायक जीत हासिल करने के बाद लगातार तीसरी बार शपथ ली है। शपथ ग्रहण समारोह अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर के राजभवन में गणमान्य व्यक्तियों…

और पढ़ें
विशेष बाघ सुरक्षा बल एनटीसीए सहयोग

अरुणाचल प्रदेश और एनटीसीए ने विशेष बाघ सुरक्षा बल (एसटीपीएफ) बनाने के लिए सहयोग किया

संरक्षण के लिए साझेदारी: अरुणाचल प्रदेश और एनटीसीए ने विशेष बाघ सुरक्षा बल (एसटीपीएफ) बनाने के लिए हाथ मिलाया वन्यजीव संरक्षण के लिए एक महत्वपूर्ण विकास में, अरुणाचल प्रदेश ने एक विशेष बाघ संरक्षण बल (एसटीपीएफ) स्थापित करने के लिए राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) के साथ सहयोग किया है। इस पहल का उद्देश्य क्षेत्र…

और पढ़ें
हर घर जल की सफलता की कहानी

अरुणाचल प्रदेश की ‘हर घर जल’ सफलता: सरकारी परीक्षा के उम्मीदवारों के लिए एक मार्गदर्शिका

अरुणाचल प्रदेश ने पूर्ण ‘हर घर जल’ संतृप्ति हासिल की – पूर्वोत्तर में पहला पूर्वोत्तर भारत के सुंदर परिदृश्य में बसे राज्य अरुणाचल प्रदेश ने पूर्ण ‘हर घर जल’ संतृप्ति प्राप्त करके एक उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की है, जो पानी की पहुंच में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। यह उपलब्धि शिक्षकों, पुलिस अधिकारियों, बैंकिंग,…

और पढ़ें
"पक्के पागा हॉर्नबिल महोत्सव न्यीशी जनजाति"

पक्के पागा हॉर्नबिल महोत्सव: अरुणाचल प्रदेश में न्यीशी जनजाति की सांस्कृतिक विरासत का जश्न मनाया जाता है

अरुणाचल प्रदेश के पक्के पागा हॉर्नबिल महोत्सव और न्यीशी जनजाति का अनावरण विविध संस्कृतियों और मनमोहक परिदृश्यों की भूमि, अरुणाचल प्रदेश परंपराओं का खजाना है। इसके कई रत्नों में से एक है पक्के पागा हॉर्नबिल महोत्सव, एक उत्सव जो राज्य की समृद्ध सांस्कृतिक छवि को प्रकाश में लाता है, विशेष रूप से न्यीशी जनजाति की…

और पढ़ें
"विशेष बाघ सुरक्षा बल"

अरुणाचल कैबिनेट ने विशेष बाघ सुरक्षा बल को मंजूरी दी – मुख्य तथ्य और अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

अरुणाचल कैबिनेट ने 3 टाइगर रिजर्व के लिए विशेष बाघ सुरक्षा बल के गठन को मंजूरी दी अरुणाचल प्रदेश कैबिनेट ने हाल ही में राज्य में बाघों के संरक्षण और सुरक्षा के लिए समर्पित एक विशेष बाघ सुरक्षा बल (एसटीपीएफ) के गठन को मंजूरी दे दी है। इस महत्वपूर्ण विकास का उद्देश्य क्षेत्र में बाघों…

और पढ़ें
Top